Jahangir Ki jivani जहाँगीर का इतिहास

Jahangir Ki jivani जहाँगीर का इतिहास

Jahangir Ki jivani जहाँगीर का इतिहास

Jahangir Ki jivani जहाँगीर का इतिहास

Dear Friends, आज हम जहाँगीर की जवानी (Jahangir Ki jivani) पर चर्चा करेंगे | आज हम जहाँगीर का शासन काल, जहाँगीर ने अपने शासन काल में क्या किया इस लेख द्वारा चर्चा करंगे | जहाँगीर ने अपने जीवन में कौन-कौन से किले को बनवाया , कितनी शादियाँ की, एवं कितने पुत्र थे इस विषय पर भी संक्षिप्त में चर्चा करंगे |

 

जहाँगीर का जीवन परिचय
जन्म तिथि 30 अगस्त, 1569 ई.
सबसे बड़े पुत्र का नाम खुसरो
मृत्यु 8 अक्टूर, 1627 ईं
मृत्यु स्थानभीमराव नामक स्थान पर

 

जहाँगीर का जन्म 30 अगस्त, 1569 ई. में हुआ। उसके के सबसे बड़े पुत्र खुसरो से 1606 ई में अपने पिता के विरूद्ध विद्रोह कर दिया। खुसरो और जहाँगीर की सेना के बीज युद्ध जालंधर के निकट भैरावल नामक मैदान में हुआ था। खुसरो को पकड़ कर कैद कर लिया गया | अहमद नगर का वजीर मलिक अम्बर के विरूद्ध सफलता से खुश होकर खुर्रम को शाहजहाँ की उपाधि  प्रदान की। 1594 ईं. में नूरजहाँ का विवाह अलीकुली बेग से सम्पन्न हुआ।

जहाँगीर ने गियास बेग को शाही दीवान बनाया एवं इतमाद-उद-दौला की उपाधि दी। जहाँगीर के शासन काल में ईरानियों को उच्चपद प्राप्त हुए। जहाँगीर ने आगा रजा के नेतृत्व में आगरा में एक चित्रशाला की स्थापना की। नूरजहाँ ने जहाँगीर के मकबरे का निर्माण करवाया था।

 

 पुत्रों के नाम 
  • खुसरो
  • खुर्रम
  • जहाँदार
  • परवेज
  • शहरयार
जहाँगीर के शासन काल के कुछ प्रमुख चित्रकार
  • आगा रजा
  • मूहम्मद नासिर
  • उस्ताद मंसूर
  • मनोहर 
  • फारूक बेग
  • दौलत
  • गोवर्धन
  • विशनदास
  • मुहम्मद मुराद
  • अबुल हसन

 

मृत्यु

जहाँगीर की मृत्यु 28 अक्टूर, 1627 ईं. को भीमराव नामक स्थान पर हो गयी। उसे शहादरा (लाहौर) में रावी नदी के किनारे दफनाया गया।


You can join our Facebook and Telegram for getting regular Notification link is given below.

Facebook:- Click Here

Telegram:- Click Here